• Breaking News

    Tuesday, January 24, 2017

    शानदार, जबर्जस्त, जिंदाबाद - एक सलाम एसपी साहब के नाम ।


    कही-अनकही

    हम लाए हैं तूफान से किश्ती निकाल के, इस देश को रखना मेरे बच्चों संभाल के...मालवा माटी के कवि प्रदीप का लिखा ये गीत आज यूं ही याद नहीं आ गया । आज इस गीत को सुनते-सुनते झाबुआ पुलिस कप्तान जहन में आ गए ।

     पुलिस कप्तान भी बड़ी मेहनत से पुलिस की डुबती नैया को निकालकर ला रहे हैं । खासकर अवैध शराब और जुएं सट्टों के मामलों में । जो कश्ती तूफान से निकलकर आ रही है, उसे संभालने की जरूरत हैं । एक एसपी पूरे जिले का नेतृत्व करता हैं, लेकिन उनकी कमान कसी हुई तभी रह पाएगी जब तक  उनकी सेना और उनके सेना के ओहदेदारों की सोच भी एसपी तिवारी की सोच से मिल जाए....डूबती किश्ती बाहर आ रही है, लेकिन सावधान रहने की जरूरत हैं । एसपी तिवारी तो कार्रवाई करना चाह रहे हैं, और जो कर भी रहे हैं,  लेकिन उनके विभागीय विभीषण चाहते हैं कि किसी भी तरह से लंका ढह जाए, और नेक्सेस –सांठगांठ जो पहले चल रही थी वो बरकरार रहे । एसपी तिवारी ने अवैध शराब को लेकर अपने तेवर दिखा दिए थे जब उन्होंने झाबुआ टीआई अनिल ठाकुर को झाबुआ कोतवाली से हटाया,एसपी के निर्देशन में नए शहर दरोगा भास्करे भी अपनी सिंघम जैसी इमेज से जनमानस में जगह बनाते नजर आ रहे हैं । लेकिन ये निरतंर रहे तो बहेतर है । ऐसा नहीं कि सब कुछ ठीक है, और वाकई में अच्छे दिन आ गए  । लेकिन ये संकेत अच्छे हैं कि पुलिस कार्रवाई कर रही है । 

    एसपी संजय तिवारी ने  पिछले दो माह में जिले में अवैध शराब पकड़ने की बड़ी कार्रवाईंयां की हैं । इन सभी कार्रवाईयों को जिले के पुलिस कप्तान संजय तिवारी ने खुद लीड किया । कार्रवाई की पल-पल की अपडेट ली । यहां तक जिस थाना क्षेत्र में कार्रवाई हुई वहां के थाना और चौकी में तैनात पुलिसकर्मियों तक भनक तक नहीं लगने दी । क्योंकि अक्टूबर से अब तक के समय में एसपी तिवारी सभी को परख भी चुके हैं और उनकी कार्यप्रणाली से भी वाकिफ हो चुके हैं । कुछ माह पहले तक झाबुआ पुलिस की चाल काफी ढीली और लापरवाह नजर आ रही थी, लेकिन जैसे ही एसपी एक्शन में आए । अवैध शराब और सट्टा जुएं पर कार्रवाई शुरू हुई, अब इन पर शिंकजा कसता नजर रहा है । बड़ी मेहनत से अब इन काले धंधों में लिप्त लोगों में खौफ पैदा हो रहा है । 

    पिछले दो माह में पुलिस कप्तान संजय तिवारी के नेतृत्व में अवैध शराब और सट्टा कारोबारियों जो पर कार्रवाई हुई है, वो बरकरार रहना चाहिए, अपराध जगत में इन कार्रवाई से हड़कंप है । जो अपराधी तत्व थाने के हेडसाब से लेकर बड़े अधिकारियों के संपर्क में हैं, अब उन्हें डर सताने लगा है कि वन मैन आर्मी यानी संजय तिवारी अपनी स्पेशल टीम से हमारे इस नेक्सेस की धज्जियां ना उड़ा दें । साहब को हमारा सलाम, आम जन खुश है । पेटलावद में सरेआम सटोरिये की पिटाई को लेकर लोग रोना रो रहे हैं, लेकिन हजारों जिंदगी बरबाद हो इससे बेहतर है कि एक अपराधी के मानवाधिकारों का हनन हो जाए । लेकिन जैसी कार्रवाई पुलिस ने पेटलावद में वैसी कार्रवाई इससे भी बड़े पैमाने पर संचालित सट्टा कारोबार पर होनी चाहिए, कई ठिकाने हैं, और ऐसा भी नहीं है कि वे पुलिस की नजर में नहीं हैं या पुलिस की खबर में नहीं है । तो आपको अपना दायरा और बढ़ाना होगा ।  लेकिन एसपी साहब को एक बिन मांगी सलाह भी । आप अपने सभी अधिकारियों थाना प्रभारियों की कॉल डिटेल निकवायें, काफी हद तक साफ हो जाएगा कि घर का भेदी लंका ढाए कहावत का झाबुआ पुलिस विभाग के लिए शाब्दिक अर्थ क्या है । 

     पिछले कुछ माह में तमाम कार्रवाईयों के लिए जनता की तरफ से आपको सलाम, ये भी  कहेंगे कि एसपी साहब शानदार, जबरदस्त, जिंदाबाद ।  वैसे  भी कही-अनकही के माध्यम से जनता का फीडबैक ही हम जिम्मेदारों तक पहुंचाने की कोशिश करते हैं ।  लेकिन ये भी कहना चाहेंगे कि  आग़ाज अच्छा है तो अंजाम इससे भी बेहतर होना चाहिए । वरना हम फकीर,कलम के सिपाही कहे बगैर कहा मानने वाले हैं । जहां आपकी परेड थम, वहां से हमारा मार्च पास्ट शुरू ।

    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY