• Breaking News

    Sunday, February 5, 2017

    भाजपाई राज में गेहुं चोर कातिया की कालाबाजारी पर क्यों नही लग रहा अंकुश

    कही-अनकही 

    भियां  फिर आ गिया कुछ कही-अनकही बातों के साथ.... गरीबों के मुंह का निवाला छिनने वाले कातिया को कौन नही जान रिया है.... दिन में समाजसेवा का चोला ओढ आडम्बर करता कातिया.... और रात के अंधेरे में चोरों की तरह गेहुं की अवैध तस्करी कर रिया है...। 
    भियां विगत दिनो रात को 1 बजे अवैध गेहुं से भरा ट्रक मेघनगर से बडौदा की ओर जा रिया था कि अचानक रास्ते में पल्टी खा गिया.... दो साल पूर्व एक फैक्ट्री में अवैध गेहुं पकडा गिया था.... बताने वाले बता रिये थे कि जब गेहुं की जांच हुई तो गेहुुं सरकारी निकला..... चंद माह पूर्व भाजपा के दिग्गज पदाधिकारियों को पता चला कि अवैध रूप से गेहुं की तस्करी गुजरात के बडोदा की जा री है... तो भाजपा पदाधिकारियों ने बालवासा के समीप सारे ट्रक रोक डाले..... और प्रशासनिक अमले को शिकायत... प्रशासनिक अमले ने देर रात तक जांच की लेकिन अचानक सभी गेहुं से भरे अवैध ट्रको के दस्तावेज आ गिये।
    भियां कातिला तो अपने काले कारनामों के लिए मशहुर है.... और ये सरकारी गेहुं का काला कारोबार गुजरात व अन्य राज्यों में कर रिया है... अवैध गेहुं के इन तीनों प्रकरणों में जांच के दौरान गेहुं तो सरकारी निकल रिया है लेकिन अधिकारी जांच इनती लम्बे समय तक करते है कि कुछ घण्टों बार दस्तावेज प्रस्तुत कर इन अवैध गेहुं से भरे ट्रकों को वैध कर दिया जाता है... भियां ठिक उसी तरह जिस तरह आबकारी विभाग अवैध शराब के पकडे जाने पर कुछ समय बाद टीपी परमीट लाकर पुलिस के सामने पेश कर देती है...। 
    भियां जिस तरह से प्रभारी कलेक्टर प्रशासनिक डंडा चला रिये है और जिले से हो री अनियमिताओं को ठिक कर रिये है.... उन्हे इस और भी ध्यान देते हुए जो अधिकारी गुलाबी गांधी छापो के सामने नतमस्तक हो रिये.... उनके खिलाफ भी प्रशासनिक डंडा चलाना चाहिए... ताकि गरीबों के मुंह  से छिनने जाने वाला निवाला... गरीबों के मुंह तक पहुंच सके। 
              भियां कातिया दिन में तो तुम घण्टों भगवान का नाम जपते हो... घण्टो पूजापाठ करते आ रिये हो.... तो फिर रात के अंधेरे में चोरों की तरह ये काले कारनामें क्यों कर रिये हो.... गरीबों के मुंह से निवाला छिन उनकी हाई क्यों ले रिये हो.... इतना रूपया इकटठा कर करोंगे भी तो क्या?.... भियां कातिया तुम्हारा लाडला बेटा तो अभी से कोठों और चकलों में पकडा रिया है... और तुम्हे उसे पैसे देकर बचाकर लाना पड रिया है... कब-कब किन की बातों पर तुम पर्दा डालते रहोगे....क्या ये सच नही है कि तुम्हारा लाडला बेटा गत दिनों लाॅज में लडकी के साथ पकडा गिया था.... भियां ऐसी बाते छुपाए नही छुपती...। 
               अब में जा रिया पर एक बात और कहुंगा पुत सपुत तो क्यों धन संचय, पुत कपुत तो क्यों धन संचय.... भियां मैं ये केना चा रिया हुं कि गरीबों के मुंह का निवाला मत छिनों, तुम्हारा पुत्र तो अभी से चकलों पर नजर आ रिया है तो फिर क्यों गरीबों की हाय ले रिये हो...। इसलिए काले कारनामें कर धन संचय क्या हासिल करोगे? .... जा रिया जय राम जी की 





    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY