• Breaking News

    Saturday, February 25, 2017

    बेटियां कभी कपूत और नालायक नहीं होती - एसपी जैन


    •  पंचाल समाज युवा जनकल्याण समिति ने जिले व समाज में अनूठी पहल करते हुए बेटियों के जन्म के साथ ही पंचाल समाज सहित अन्य समाज की प्रतिभावान बेटियों को सम्मानित करने के लिए शनिवार को निजी गार्डन में एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में झाबुआ विधायक शांतिलाल बिलवाल और पेटलावद विधायक सुश्री निर्मला भूरिया उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिले के पुलिस कप्तान महेशचंद जैन ने की। साथ ही कार्यक्रम में विशेष अतिथि के तौर पर भाजपा जिलाध्यक्ष दौलत भावसार, प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य व वरिष्ठ भाजपा नेता शैलेष दुबे, झाबुआ नगर पालिका परिषद् के अध्यक्ष धनसिंह बारिया उपस्थित थे। कार्यक्रम का प्रारंभ समाज की आराध्य देवी मां चामुंड़ा और कुल देवता भगवान विश्वकर्मा के चित्र पर माल्यार्पण कर किया गया। समाज की नन्हीं बालिकाओं ने सभी अतिथियों का स्वागत किया।
    • सर्वप्रथम कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि पेटलावद विधायक भूरिया ने कहा कि आदिवासी अंचल में सभी समाज में बेटियों का प्रतिशत अन्य जिलों की अपेक्षा अधिक है। उन्होंने कहा कि बेटियां दो घरों को उजाला देती है। कार्यक्रम में झाबुआ विधायक बिलवाल ने लोगों को स्वामी विवेकानंद का मां को लेकर एक वृतांत सुनाकर प्रेरित किया। बिलवाल ने कहा कि पंचाल समाज के इस कार्यक्रम का अनुसरण जिले का हर समाज करेगा और यह कार्यक्रम लोगों को बेटियों के प्रति नई सोच लाने को प्रेरित भी करेगा।
    • कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे एसपी जैन ने बेटियों को लेकर बहुत प्रेरणादायक बातें कही। एसपी जैन ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि बेटियां कभी कपूत और नालायक होंती है। यह हो सकता है कि बेटा कपूत और नालायक निकल सकता है। उन्होंने कहा कि यदि समाज बहू को बेटी मान ले तभी समाज प्रगति कर सकता है। साथ ही उन्होंने समाज जनों के कहा कि जो लोग आर्थिक रुप से सक्षम हैं, वे समाज के अन्य लोगों को कम ब्याज पर रुपए देकर उन्हें शिक्षा, स्वास्थ्य जैसे क्षेत्रों में मदद करें। उन्होंने मां की महिमा का बखान करते हुए कहा कि पूरे देश में ऐसा एक भी घर नहीं होगा जहां यदि मां शिक्षित है तो उनकी संतानें अशिक्षित रहें। इसलिए सभी समाजजन अपनी बेटियों को पढ़ाएं, जिससे वह समाज और देश का नाम रोशन कर सकॆं।

    • कार्यक्रम को शैलेष दुबे, दौलत भावसार, समाजसेवी मदनलाल पंचाल, श्रीमति भारती सोनी, अंगदान को लेकर काम कर रहीं आयुषी दत्ता सहित समाज की दो बालिकाओं कु. मयूरी पंचाल व कु. दृष्टि पंचाल ने भी संबोधित किया। सभी वक्ताओं ने बेटियों के सम्मान और उनके विकास की बात कही। सभी ने पंचाल समाज के कार्यक्रम की प्रशंसा की और युवा जन कल्याण समिति के सदस्यों को धन्यवाद भी दिया।

    • पिछले 6 माह में समाज में जन्मी बेटियों का हुआ सम्मान
    • कार्यक्रम में अतिथियों के द्वारा समाज में पिछले 6 माह में जन्मी प्रत्येक बेटी का उनके अभिभावकों सहित सम्मान किया गया। जिले के कुशलपुरा, खरडू बड़ी, कल्याणपुरा, कुंदनपुर, थांदला, पिटोल और झाबुआ में जन्मी 16 बेटियों का सम्मान अतिथियों ने किया। सम्मान पाकर बेटियों के अभिभावक और परिवार के सदस्यों के चेहरे पर एक नई मुस्कुराहट थी, जिसको देखकर कार्यक्रम में उपस्थित हर मां, बहन और बेटी के चेहरे का तेज निखर कर सामने आ रहा था। 
    • दिव्यांग बालिका सोनल के सम्मान में खड़ा हुआ पूरा समाज  
    • समाज ने पंचाल समाज सहित अन्य समाजों की प्रतिभाओं का भी सम्मान किया। सम्मान के वक्त एक पल ऐसा आया जब कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों सहित पूरा पांडाल खड़ा हो गया। वक्त था समाज की एक दिव्यांग बालिका सोनल अल्केश पंचाल के सम्मान का। सोनल ने पेंटिंग और मेहंदी में पूरे संभाग में विशिष्ठ स्थान हासिल किया था। इसके साथ ही शिवा त्रिवेदी, निधि त्रिपाठी, डिंपल राठौर, हार्दिका दवे,विभा हाड़ा, सैजल जैन, यस्विनी वाजपेयी, दिव्यांगी सक्तावत, प्रियांगी सक्तावत, सौम्या यादव, पूजा ताहेर, कृतिका गादिया,पलक डावर, निकिता बघेल, मोनिका सौलंकी,ऐंजल मैथ्यू सहित कईं बालिकाओं को विभिन्न खेलों, सांस्कृति, साहित्यिक व कला के क्षेत्र में राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर सम्मानित किया गया।
    • सामाजिक क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए श्रीमती भारती सोनी, स्वास्थ्य और अंगदान के लिए प्रेरित करने वाली आयुषी दत्ता व राजनैतिक क्षेत्र में मेघनगर नगर परिषद् की अध्यक्षा श्रीमति ज्योति नटवर बामनिया को भी समाज ने सम्मानित किया।
    • आपदा कोष के लिए भी की गई पहल
    • कार्यक्रम में मंच पर एक पात्र रखकर पंचाल समाज आपदा कोष का निर्माण करने का ऐलान भी किया गया। जिसका मुख्य उद्देश्य समाज में किसी गंभीर बीमार व्यक्ति की सहायता के लिए समाज द्वारा सहयोग प्रदान करना है। किसी भी प्राकृतिक आपदा के लिए इस कोष से समाजजनों की मदद करने का कार्य किया जा सके। इस हेतु समिति द्वारा एक बैंक अकाउंट खुलावाया जाएगा, जिसमें समाज के व्यक्ति स्वेच्छा से दान दे सकते हैं।  
    • कार्यक्रम में इनका रहा सरहानीय योगदान
    • कार्यक्रम में स्वागत भाषण समिति के अध्यक्ष गगन पंचाल ने दिया। समिति के उपाध्यक्ष राजेंद्र पंचाल ने समिति के कार्यों का विस्तृत ब्यौरा भी दिया। कार्यक्रम में पंचाल विकास मंच के अध्यक्ष हिरालाल पंचाल, जगदीश पंचाल, बाबूलाल पंचाल, पूनमचंद पंचाल, रामलाल पंचाल, शंकरलाल जी पंचाल, लुणाजी पंचाल सहित झाबुआ, अलीराजपुर और रतलाम के समाजजन उपस्थित रहे। कार्यक्रम में युवा, बेटियों, महिलाओं और बुजुर्गों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। कार्यक्रम को सफल बनाने में समिति के सभी सदस्यों और दोनों जिलों के नगर प्रतिनिधियों का भरपूर सहयोग रहा। 

    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY