• Breaking News

    Thursday, February 23, 2017

    अपराधी कमलेश पर क्यों नही कार्रवाई करती पुलिस........ इन्दौर के पिन्टु भाई को भी बनाया इन्होने मामू

       
    भियां कैसा क्या चल रिया है..... सब ठिकठाक तो है न... भियां आज अलसुबह जब चाय की चुस्कियां लेते हुए......  जब में पेपर पढ रिया था.....  तो मेरी नजर अचानक जिले में हो रहे शराब क ईटेंडर वाली खबर पर गई और सोचने लगा की अब तो और जोरों पर अवैध शराब की तस्करी होगी... खबर पढते पढते मेरे मगज में एक ओर  बात आ गई कि कांग्रेसी नेता कांतिलाल भूरिया बैठकों में कमलेश और अलकेश का माफिया होने का दावा कर रिये थे... ये बात झुटी है या सच्ची.... तो भियां मैं इस बात की तह तक गिया तो पता चला... ;ये भोत बड़े शराब माफिया है..... खुफिया ऐजेन्सियों की रिपोर्ट में इनका नाम शराब तस्कारी करने  और आपराधिक होने   के मामले में ये नम्बर 1 पर है...। 
    भियां रिपोर्ट के अनुसार जिले में आबकारी हो या पुलिस विभाग या फिर हो भारतीय जनता पार्टी सभी इन्हे संरक्षण देते आ  रिये है और गुलाबी नोटों के सामने नतमस्तक हो रिये  हैं ...। भियां भगोडा अलकेश खाद्य विभाग के एक मामले में जेल जा चुका है तो कमलेश के मेघनगर थाने  में ही (1) अपराध क्रमाक 229/03.12.2005 धारा 294,323,506,147,148 भादवि, (2) अप. क्र.79/05.06.2008 की धारा 341.147 भादवि, (3) अप. क्र. 131/06.08.12 की धारा 457,294,323, 506, 34 भादवि, (4) अप. क्र. 105/30.05.13 की धारा 147, 148,149,506,341,394,336, भादवि एवं 25-बी, 30 आर्म्स एक्ट  के तहत आदि मामले दर्ज है.... इनके अलावा पिछले दो वर्षो  भी 5  से 6  मामले कमलेश के खिलाफ मेघनगर में दर्ज हैं...। 
                         सुत्रों के मुताबिक कमलेश का जिले के पुलिस वरिष्ठ कार्यालय में आना जाना और घंटों बैठे रहने का सिलसिला था.... जब पूर्व पूलिस कप्तान संजय तिवारी को इस बात की खबर हुई... तो उन्होने अपने अधिनस्थों को लताड लगाई और कार्यालय में इन महाशय की कीरकीरी कर दी.... और अधिनस्थों को कमलेश के मामले को देखते हुए उसे गिरफ्तार  करने के साथ साथ... उसके विभिन्न मामलों की जांच करने के निर्देश दिए थे... उनके निर्देशों का पालन नही करने की वजह से एक अधिकारी की रिपोट खराब भी हो गई....।
    भियां बात यहां थम नी री है...... भगोडा अलकेश और अपराधी कमलेश ने इंदौर के पिन्टु भाई को भी मामू बनाया... झाबुआ में अपनी अच्छी पेठ है... झाबुआ से गुजरात हम तुम्हारी अवैध शराब को बेचेगे ऐसा कह कर पिन्टु भाई को >झाबुआ जिले में अवैध शराब की तस्करी के लिए राजी किया.... और गुजरात में अवैध शराब की तस्करी जोरों पर की ... लेकिन बाद में नुकसान हो गया कह पिंटू भाई को  भी मामू  बना डाला...। 
                                    तो भियां अब समझ में आ गिया कि कांतिलाल भूरिया भी युं ही नही अलकेश और कमलेश को शराब माफिया  कह रिये थे...। लेकिन इतने मामले होने के बावजुद पुलिस विभाग इस अपराधिक प्रवृति के व्यक्ति पर कोई कार्रवाई नही कर री है। सुत्रों के मुताबिक एक मामले में अभी भी अपराधी कमलेश को गिरप्तार नहीं किया गया । ऐसे में कमलेश का नाम किस सुची में होना चाहिए ये तो पुलिस भी जानती है... लेकिन गुलाबी गांधी छापों के सामने वो भी नतमस्तक होकर बैठी है... जिसकी वजह से खुल्लेआम ये अपराधीक प्रवृत्ति का बदमाश शहर में घुम रिया है। 

    तो भियां अब मैं चलता हुं... फिर मिलुगा कुछ कही-अनकही बातों के साथ जय राम जी की....... 

    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY