• Breaking News

    Thursday, March 23, 2017

    छाकलिया में शराब माफिया ने गुर्गे को बनाया बली का बकरा...... अगला निशाना सोम ग्रुप


    लो भियां में फिर आ गिया कुछ कहीं-अनकही बातों के साथ.... भियां कल अचानक शाम को गुजरात जाना हो गिया... जैसे ही वहां पहुंचा तो भियां पुराने दोस्त मिल गिये.... बातों ही बातों में भियां समय का पता ही नही चला.... भियां दोस्त बिता रिये थे कि कुछ दिन पेले छाकलिया में पुलिस ने अवैध शराब को लेकर दबिश दी... दबिश के दौरान कुछ लोगों ने पुलिस पर पत्थराव कर.....हवाई फाईरिंग भी की...जिससे तीन पुलिस जवानों को चोटें भी आई.... भियां मुझ से रहा नी गिया...मैंने दोस्त से पूछ ही लिया... भाई गुजरात में तो शराब बंदी है... और चुनाव की भी तैयारी चल री है ऐसे में कौन बार्डर पार शराब ला सकता है....। 
               तो भियां खाकी वाला दोस्त तुरंत बोल पडा.... एक आरोपी को तीन किमी तक पुलिस ने दौडाया... और उसे पकड लिया.... पुलिस ने जब उससे पुछताछ की तो भियां उसने बिताया कि वो किस शराब माफिया से शराब लेता है और उसे अन्य क्षेत्र में बेच रिया है...भियां छाकलिया मामले में माफिया के साले का नाम भी आ रिया है... ऐसे में उसे बचाने के लिए अभी माफिया जदोजहद कर रिया है.......  बताते है शराब माफिया  बडी मात्रा में गुजरात राज्य में......  ये अवैध शराब की तस्करी कर रिया है....। भियां समय बहुत हो गिया था तो मैं वहां से निकल आ गिया....।  
              भियां घर लौटते वक्त सोच रिया था कि आखिर ये  शराब माफिया है कौन... सुबह जैसे ही उठा... सुत्रों से पता किया....ये तो वो ही माफिया हैं... जिसका क्षेत्रीय  सांसद कांतिलाल भूरिया के रिये थे...। तब मुझे पता चला आखिर सासंद महोदय बार बार क्यों इन माफियाओं  का नाम हर प्रशानिक बैठक में नाम ले रिये थे...। मगर सत्ता के मंत्री इनके तो। .... अधिकारी भी क्या करें।
               भियां मुखबिर ने तो बहुत कुछ बिताया....वो बिता रिये थे की... भियां कांतिलाल भूरिया ने जिन दो  माफियाओं.... जिसमें एक भगोड़ा दूसरा अपराधी का माफिया होने का दावा अधिकारियों के सामने किया था... उनका अवैध शराब का व्यापार छोटा नही बहुत बडा है... भियां बदनावर मार्ग से होते हुए ये हरियाणा की शराब जिले से होते हुए गुजरात राज्य में बेच रिये है...  सारंगी के मार्ग से होते हुए माल गुजरात जाता है...। जहां से अलग अलग पिकअपों में खाली हो जाती है......। 
                भियां सुत्र बिता रिये थे इस बार जिले के सबसे बडे माफिया क भगोड़ा दूसरा अपराधी अपने 8 पार्टनर को मामु बनाने के बाद सोम ग्रुप को मामु बनाने के लिए तैयार है... सोम ग्रुप को इनके द्वारा अपना प्रपोजल भेज दिया गया है.... इनका कहना है कि आबकारी और पुलिस तो अपनी जेब में है डाईरेक्ट मंत्रीजी से अपनी सेंटिंग है। जिले में कहीं भी हम माल बेच सकते है...। 
               भियां बडी लंबी चर्चा के बाद सुत्रों ने जानकारी दी कि माफिया को एक खाकी वाले से काफी खौफ था। उसका तबादला यहां पर हो गिया था... जिसे रोकने के लिए इन्होने मंत्रीजी से सेंटिंग कर उसका तबादला रूकवाया।  अब ये समझा नी आ रिया है कि भियां इन माफिया कोउस खाकी वाले से इतना डर क्यों लग रिया था की मंत्रीजी से बात कर उसका तबादला रूकवाना पडा। खैर अवैध काम अंदर ही अंदर कौन ाामिल नही होता। 
            अब मैं जा रिया... समय भी बहुत हो गिया है फिर लौटुंगा कुछ कही-अनकही के साथ...जाते जाते एक बात और बिता दुं भियां माफिया अपने घर में तो सब शेर होते है... और हमारा तो पुरा जिला ही घर है.... जहां जाएगे हमारे भाई बंधु मिल जायेगे.... याद है न पूर्व पुलिस अधीक्षक कृष्णावेणी देसावातु के समय भागते फिरे थे....अब जा रिया.....जय राम जी की।

    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY