• Breaking News

    Thursday, April 13, 2017

    4 वार्डो की प्यास बुझाने वाले सांसद भूरिया..... 14 वार्डो के वोट कैसे जुगाडेगें

           भियां सबकों मेरा नमस्कार.... बडे दिनों बाद भियां अपना मिलना हो रिया है.... मिलते भी कैसे.... मैं ही कुछ पारिवारिक कामों में लग गिया था.... भियां भारतीय लोकतंत्र में जनता किसे अभिनेता और किसे विलेन बना दे कोई नही जानता... लोकतंत्र से लोकतंत्र का निर्माण हुआ है... जिसमें सारे अधिकार जनता के पास सुरक्षित है... भियां मैं यहां लोकतंत्र की परिभाषा बतलाने नही आया हुं.... मैं लोकतंत्र की बात इस लिए कर रिया हुं.... भले ही मैं आप लोगों से मिल नी रिया था... लेकिन सोशल मीडिया के कीडे ने मुझे उससे अछुता नी रखा... भियां मैं पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया पर भाजपा और कांग्रेस की नुराकुश्ती देख रिया था... दोनों पार्टी अपने अपने कामों का महीमा मंडल करते दिखाई दिए... और करें भी तो क्यों न नगर पालिका चुनाव जो आ रिये है.... पर भियां सोशल मीडिया और अखबारों में नगर पालिका तो सभी वार्डों का काम कर री है... लेकिन भियां क्षेत्रीय सांसद के काम से ऐसा लग रिया है कि उनके लिए 4 वार्डो की जनता... जनता है.... बाकि सब जनार्दन
            भियां लोकतंत्र में सारे अधिकार जनता के पास ही है... वो कब किसे कुर्सी पर बैठा दे... और कब कुर्सी से गिरा दे... कुछ कह नही सकते... जनता का मन करें तो हिरो... नही तो जीरो.... भियां बात घुमा फिरा कर नही... सीधे सीधे कर रिया हुं...। क्षेत्रीय सांसद कांतिलाल भूरिया को क्षेत्र की जनता ने अपने अधिकारों का उपयोग करते हुए.. सांसद की कुर्सी पर बैठाया.... लेकिन अब सांसद उसी जनता को भूल गिये..... ऐसा लग रिया है... तभी तो कांग्रेस के 4 वार्डो की जनता उन्हे प्यासी दिखाई दी... बाकि के 14 वार्डो से ऐसा लग रिया है कि उनके क्षेत्राधिकार में नही है... या फिर उनके विरोधी या भाजपाई है ... तभी तो सांसद ने इन 14 वार्डो की उपेक्षा की...। अगर सांसद चाहते तो पुरे 18 वार्डो में हैंडपंप उत्खनन करवाते .....  सांसद नपा चुनाव की तैयारी तो कर रिये है.... तो उपेक्षा के बाद 14 वार्डो में वोट कैसे जुगड़ेगे। भिया सांसद जी आप जो राजनीतिक खेल खेल रिये हो वो सब जान गिये हैं........ 
            भियां सांसद भूरिया को भी जनता ने ही कुर्सी पर बैठाया है... न की इन 4 वार्डो की जनता ने.... अगर नगर की पूरी जनता न होती तो सांसद की कुर्सी भी न होती। भियां सोशल मीडिया पर जब मैंने देखा... प्रचंड गर्मी में सांसद की सौगात... मैं बडा खुश हो गिया कि भियां सांसद को नगर की चिन्ता है... लेकिन जब आगे पढा तो पता चल गिया कि ये चारों वार्ड तो कांग्रेसी है.... तो भियां मैंने सोचा सांसद जनता के साथ इतना पक्षपात कर रिये है... बाकि के 14 वार्डो में भी कांग्रेसी है.... ऐसे में तो नगर पालिका अध्यक्ष भाजपा के है तो उन्हे भी इन 4 वार्डो को छोड 14 वार्डो का विकास करना चाहिए...। लेकिन उनके कार्याकाल में पूरे 18 वार्डो का विकास हो रिया है.....। इन 4 वार्डो को नगर पालिका कार्याकाल में कितनी ही योजनाओं का लाभ मिल गिया है.... भियां अगर ये 4 वार्ड के सच्चे कांग्रेसी होते तो आज नगर पालिका उपाध्यक्ष कांग्रेस का होता.... तो अब आप लोग ही बताईए अगर भाजपा नपा अध्यक्ष इन 4 वार्डो की उपेक्षा कर दे तो क्या होगा....। 
           तो भियां अब मैं चलता हुं... जय राम जी की... लेकिन एक बात बता दुं भियां सांसदजी  जनता हिरो भी बना सकता है और जीरो भी... इसलिए जनता की उपेक्षा न करें... अब जा रिया जय रामजी की...। 

    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY