• Breaking News

    Saturday, April 29, 2017

    जमीन मे पानी का संचय हो, इसके लिए नदी नालो पर छोटे छोटे स्टापडेम बनायें -कलेक्टर

    झाबुआ। कलेक्टर  आशीष सक्सेना ने संबंधित अधिकारियो को निर्देशित किया है कि सभी ग्रामीणो के बैंक खातो को उनके मोबाईल नम्बर एवं आधार नम्बर से लिंक करने की कार्यवाही करे,जमीन मे पानी की कमी हो जाने से जलस्तर काफी कम हो गया है। जमीन मे पानी का संचय हो, इसके लिए नदी नालो पर छोटे छोटे स्टापडेम बनाये। इसके लिए कार्ययोजना बनाकर जनभागीदारी से काम करने के लिए ग्राम संसद मे पारित कर काम प्रारंभ करे, ताकि भविष्य मे गंभीर पेयजल समस्या से बचा जा सके। ग्राम संसद मे कलेक्टर  ने कुपोषित बच्चो के माता पिता को मनरेगा योजना के काम तत्काल उपलब्ध करवाने के निर्देश रोजगार सहायक ,सीईओ जनपद एवं एसडीएम को दिये। भविष्य में सभी शासकीय योजनाओं का लाभ हितग्राही को सामाजिक आर्थिक गणना 2011  के डाटा के आधार पर दिया जाना है। ग्राम संसद मे सामाजिक आर्थिक गणना के डाटा का वाचन अवश्य करे ,जिन ग्रामीणो के नाम गणना की सूची में छूटे हुए है उनके नाम जोडे जाये।
           ग्राम संसद मे कलेक्टर  ने निर्देश दिये कि ग्राम सभा में ग्राम पंचायत के प्रत्येक गाॅव के लिए शान्तिधाम, खेल का मैदान, पंचायत भवन, आंगनवाड़ी भवन बने हुए नही है,तो प्रस्ताव को मंजूर कर कार्यवाही प्रारम्भ करवाना सुनिश्चित करे,  सुदूर ग्राम में संपर्क के लिए पक्की सड़को का निर्माण कार्य के लिए प्रस्ताव तैयार करवाये ,ग्रामीण क्षेत्र में 2 हेक्टेयर से अधिक जमीन उपलब्ध होने पर सामाजिक वानिकी के तहत वृक्षारोपण की कार्य योजना को मूर्त रूप देकर 2 जुलाई को वृक्षारोपण के लिए कार्यवाही सुनिश्चित करे। तालाब एवं नदियो के किनारे भी वृक्षारोपण की कार्यवाही को मूर्त रूप दिया जाये। ग्राम संसद में प्रधानमंत्री आवास योजना की सूची का वाचन कर समीक्षा करे और पात्रों को शामिल कर अपात्रों को बाहर किये जाने की कार्यवाही करे। पेंशन योजना के पात्र हितग्राहियो को सूचीबद्ध कर पेंशन स्वीकृति की कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। सभी विधवा महिला एवं सभी वृद्वाजनो के पेंशन के प्रकरण ग्राम संसद में स्वीकृत कर पेंशन दिलवाना सुनिश्चित करें।
           पुराने तालाबो के गहरीकरण के लिए जनसहयोग से कार्यवाही करे, सब इंजीनियर तालाब मे चूने से लाईन डालकर चिन्हित कर दे एवं ग्रामीणजन तालाब की उपजाऊ मिटटी अपने स्वयं के संसाधनो का उपयोग कर खोदकर अपने खेतो मे डाले। इस तरह तालाब का गहरीकरण भी हो जाएगा एवं किसानो को अपने खेत के लिए  उपजाऊ मिटटी भी निःशुल्क मिल जाएगी। तालाबो के गहरीकरण से तालाब की जलधारण क्षमता भी बढ जाएगी। इससे जमीन मे जलस्तर भी बढेगा एवं ग्रामीणो को पानी की समस्या भी नही होगी।

    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY