• Breaking News

    Wednesday, May 24, 2017

    क्यों दरोगा साहब......! पुलिस कप्तान की आंखों में धुल झोक..... सटटा कारोबारियों को संरक्षण दे रिये हो .. !


    भियां सबकों मेरा नमस्कार.... भियां पुलिस मेहबान तो गधां पेलवान कहावत की तर्ज पर ... सटोरिये, माफिया, चोर, उचको पर नगर पुलिस इतनी मेहरबान हैं कि गधे भी अपने को पेलवान समझ रिये है... भियां सेवाभावी पुलिस कप्तान नगर ही नही वरन् जिले से भी अपराधों को मिटाने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों के साथ साथ... खाटला बैठक कर रिये है... ताकि एक आम आदमी भी चेन की नींद सो सके..... मगर भियां पुलिस कप्तान जो मेहनत कर रिये है... उस पर दरोगा साहब पानी फेरने में लग गिये है... और राम नाम जपना पराया माल अपना की तर्ज पर काम  कर रिये है। 
    भियां जिले की नही.....  मैं नगर की बात कर रिया हुुं.... नगर में खुलेआम सटटे का कारोबार इतना जोरों पर चल रिया है कि सटोरियों की चांदी चांदी हो गई... भियां ये काला कारोबार दरोगा साहब के सामने हो रिया है लेकिन पुलिस कप्तान की आंखों में धुल झोक....  दरोगा साहब इन सटोरियों को संरक्षण प्रदान कर रिये हैं... भियां आईपीएल में भी जमकर सटटा चला... और अब चैम्पियन ट्राफी चालु होने जा री है...  और  फिर से सटटा कारोबारियों में चहल-पहल चालु हो गी है... लेकिन भियां दरोगा साहब का कहना है उन्हे मामलु ही नही कहां कहां सटटा चल रिया है...  तो भियां दरोगा साहब मैं ही बता दे रिया हुं.... हुडा महोल्ला में 3 जगह.... लक्ष्मीबाई मार्ग में 4 लोग.... बाबेल स्टोर के आस पास 2 लोग.... थांदला गेेट आस पास 2 लोग खुल्लेआम पर्ची लिख रिये है... राजगढ नाका 2 लोग, करडावद बडी में बडे सटोरिये और राजवाडे के आस पास सटटे का कारोबार जोरों पर चल रिया है... अब भियां देखना है दरोगा साहब को ये सटटा कारोबारी मिलते है या नही... या फिर पिछली बार की तरह 25 लोग सटटा खेल रिये होते है और दरोगा साहब 5 को ही पकड कर छोटा- मोटा केस बना दे....  और  भियां पूरी डिटेल मिलने  के बाद भी.... अगर दरोगा साहब दबिश देने जायेगे भी तो वहां से सटोरिये भाग गिये होंगे। 
    भियां सहज, सरल और सेवा भावी हमारे पुलिस कप्तान तो नगर की दशा दिशा सुधारने में लगे हुए है.... और उन्होने काफी सफलता भी हासिल की है... भियां जिस तरह कप्तान साहब से तुफान हत्या कांड को चुनौती पुर्ण लिया... और महज चंद दिनों में आरोपी को अपनी गिरफत में ले लिया... अगर भियां पुलिस कप्तान ये चुनौती नही लेते तो दरोगा साहब.... इसमें भी कुछ न कुछ घालमेल कर देते... भियां अंदर खानों की खबर रखने वाले बता कर रिये थे... दरोगा साहब तो 35 रूपए की चोरी के आरोपी को भी प्रेस कांन्फ्रेस लेकर खुल्लासा करते है....  तो भियां विगत दिनों एक नेता की चोरी हुई बाईक के आरोपी को पकडने के बाद भी उसका खुलासा अभी तक क्यों नही किया... भियां ये भी चर्चा है कि जो चोर पकडा गिया था... उससे नगर में हो रही कई चोरियों के खुलासे हो सकते थे... और एक बडी चोरों की गिरोह  सामने आ सकता था ... अब क्या पता... दरोगा साहब आखिर क्या करना चाहते है... ।
    तो भियां अब मैं जा रिया... जय बाबा रामदेवजी की। 

    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY