• Breaking News

    Thursday, May 25, 2017

    भियां कांग्रेस के कर्मठों को दिया लाली पाॅप..... और पेराॅशुट नेता को बेच दी टीकट.....

    भियां सबकों मेरा नमस्कार.... कैसा क्या चल रिया है.... सब ठिकठाक तो है न.... भियां नगर पालिका चुनाव आ रिये है... और पेराशुट से उतर कर दावेदारी करने वाले, धन, बल और छल से टीकट पाने की होड में लग गिये है...। इन पेराशुट नेताओं को जिन्हे कभी पार्टी के झंडे उठाते नही देखा वो भियां आज कद्दावर नेता के साथ नोटों के बल सभाओं और कार्यक्रमों में देखे जा सकते हैं .... भियां मैं बात कर रिया हुुं झाबुआ नगर पालिका चुनाव को लेकर कांग्रेस में हो री हलचल की... सालों से कांग्रेस के झंडे उठा रिये आशीष और हेमचंद इन दिनों नपा चुनाव लडने की दावेदारी कर रिये है और करे भी क्यों न.... पार्टी के लिए समर्पित जो है....। सालों से छोटे से लेकर बडे चुनाव तक हाथों में झंडे लिए.... नारेबाजी करते.... गली हो या मोहल्ला, या फिर गांव हो या शहर सभी जगह से पार्टी के लिए समर्पित होकर काम कर रिये है... पर्वेक्षक आए दावेदारी की.... तो पर्वेक्षकों और कद्दावर नेता ने इन्हे बच्चों की तरह मुंह में लाली पाॅप देकर... कर कह दिया चिन्ता काहेकी.... पुरी जांच कर उचित दावेदार को ही दी जायेगी... वहीं दुसरा पर्वेक्षक के रिया जिसके पास 1 से ढेड करोड रूपए होेंगे वो ही चुनाव लडेगा। 
    भियां इन दोनों को तो पर्वेक्षकों ने मुंह में लाली पाॅप देकर गुमराह कर दिया... लेकिन अंदर की खबर रखने वाले बता रिये है... की पुत्र मोह में लगे हमारे काॅग्रेस के कद्दावर नेेता... ने तो महीनों पहले टीकट पेराशुट नेता को बेच दी है... जिसमें उन्हे बंगलो और रामकृष्ण नगर में प्लाॅट और तरह तरह के उपहार दे रिये हैंै.... सुनने में तो ये भी आ रिया है पेराशुट नेता ने चुनाव के लिए झंडे बैनर बनाने के लिए आर्डर भी दे दिया है... अब इंतजार है घोषणा की.... टीकट न तो आशीष को मिलेगी और न ही हेमचंद को.... मिलेगी तो पेराशुट नेता को.... जिसने कांग्रेस के कददावर नेता को नोटों की आगोश में छुपा लिया है...। इन्हे इनके भविष्य की क्या चिन्ता। 
    भियां बुरा लगे तो लगे... अभी नही तो कभी नही.... घुमा फिरा कर नही सीधे बता रिया हुं... अगर अभी इन दोनों में से एक को टीकट मिल भी जाती है.... तो ये अंगत के पेड के समान हो जायेंगे और कद्दावर नेता के रास्ते के कांटें.... इन कांटों को साफ करने के लिए पेराशुट नेता को आगे ला रिये है... ताकि भविष्य में पुत्र मोह में पढे ये कद्दावर नेता अपने बेटे को आगे ला सके....। 
    और भियां इन्हे अभी टीकट नही मिलती है तो इनका भी भविष्य अंधकारमय हो जायेगा... कद्दावर नेता को अभी ऐसा लग रिया है कि सालों से झंडे उठाने वालों की वजह से नही... उनके पुत्र की वजह से जीते है.... और पेराशुट नेता को भी जीता लायेंगे... लेकिन ये भ्रम भी इस बडे नेता का जल्द ही दुर हो जायेगा... उपचुनाव बेटे ने नही... भाजपा ने जिताया है....! 
    तो भियां अब में जा रिया.... लेकिन जाते जाते एक बात और बता दुं.... अगर पेराशुट नेता की टीकट मिल गई... तो चंद सिक्कों के खातिर अपने भविष्य को अंधकार में मत डालना.... जंग जारी रखना.... कल तुम्हारा ही होगा...। 
     अब जा रिया.... जय रामजी की।   

    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY