• Breaking News

    Thursday, June 15, 2017

    त्रिदिवसीय गुरूपूर्णिमोत्सव के आमंत्रण पत्र का किया गया विमोचन


    झाबुआ । आगामी  9 जुलाई गुरूपूर्णिमा के पावन अवसर पर शिरडी साई मंदिर पुलिस लाईन में मनाये जाने वाले त्रि दिवसीय गुरूपूर्णिमा महोत्सव एवं विशाल भंडारा एवं साई पालकी आयोजन को लेकर गुरूवार को साई मंदिर पर आमंत्रण पत्र का विमोचन क्षेत्रीय विधायक शांतिलाल बिलवाल एवं पुलिस अधीक्षक महेशचन्द्र जैन के मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ । आमंत्रण के विमोचन के अवसर पर विधायक शांतिलाल बिलवाल ने साई भक्तों को संबोधित करते हुए कहा कि साईबाबा सर्वधर्म समभाव के प्रणेता रहे है। उन्हो ने जाति पाति के भेद भाव को मिटा कर सभी धर्म के लोगों को अपनाया । श्रद्धा एवं सबुरी जैसे महामंत्र के माध्यम से उन्होने जीवन जीने की कला बताई । श्री बिलवाल ने कहा कि साईबाबा स्वयं पर्यावरण सरंक्षण के उदाहरण रहे है उन्होने  मिट्टी के घडो में जल भर कर शिरडी में बगीचें को हरा भरा बनाया था। हमे भी बाबा के जीवनदर्शन का अनुकरण करते हुए अधिक से पौधारोपण करके हरितिमा से इस धरती को आच्छादित करने में अपनी भूमिका निभाना होगी ।
    त्रिदिवसीय गुरूपूर्णिमा महोत्सव के दौरान  होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए दिलीप कुशवाह ने बताया कि 7 जुलाई शुक्रवार को प्रातः 7-30 बजे साई आरती, 11 बजे गणेश पूजन एवं श्री सत्यनारायण कथा एवं सायंकाल 7-30 बजे आरती होगी । 8 जुलाई शनिवार को प्रातः 7-30 बजे साई बाबा की आरती होगी । प्रातः 10 बजे मंदिर प्रांगण में  स्वच्छता अभियान चलाया जावेगा, सायंकाल 7-30 बजे साई आरती तथा रात्री 8 बजे से बजरंगबाण का पाठ होगा । 9 जुलाई को गुरूपूर्णिमा के पावन अवसर पर प्रातः 5-30 बजे कांकड आतरी व बाबा का अभिषेक होगा, 7-30 बजे प्रातः मंगला आरती होगी, प्रातः 10 बजे से सायंकाल 4 बजे तक विशाल भंडारे का आयोजन होगा, सायं 4-30 बजे से विशाल साई पालकी शोभायात्रा निकाली जावेगी जिसमे साई बाबा नगर भ्रमण कर नगरवासियों को  दर्शन देगें । रात्र 8-30 बजे महा आरती होगी तथा रात्री 9 बजे महा प्रसादी एवं इन्दौर  के कलाकारों  द्वारा रंगारंग आतिशबाजी की जावेगी । रात्री 11 बजे बाबा की शयन आरती के साथ त्रि दिवसीय गुरूपूर्णिमा महोत्सव का समापन होगा । श्री कुशवाह ने बताया कि इन्दौर के कलाकारों द्वारा मंदिर की आकर्षक साज सज्जा की जावेगी, रंगा रंग आतिशबाजी मुख्य आकर्षण रहेगा । पालकी के दौरान आदिवासी नर्तक दल आलीराजपुर, झाबुआ के बेंड एवं ताशा पार्टी, नाशीक के ढोल, बच्चों के लिये मिक्की माउस, गणेश जी बंदर आदि मनोरंजक माहौल पैदा करेगें ।
    इस अवसर पर मंदिर परिसर में ही युवा साई समिति की बैठक आयोजित कर त्रिदिवसीय आयोजन को सफल बनाने के लिये कार्ययोजना को अंतिम रूप  दिया गया । कार्यक्रम संयोजक श्रीमती कविता शैलेन्द्र सिंगार के मार्गदर्शन में नगर के सभी 18 वार्डो में 5-5 युवा साई समिति के सदस्यों की टीम घर घर भ्रमण कर आमंत्रण पत्रों का  वितरण करेगी तथा कार्यक्रम को श्रद्धा एवं भक्ति से परिपूर्ण बनाने के लिये सभी सदस्यों को सौपे गये दायित्वों को पूरा करने का आव्हान किया गया । अंत में आभार प्रदर्शन के साथ बैठक का समापन हुआ ।

    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY