• Breaking News

    Tuesday, August 22, 2017

    स्कूल/छात्रावास के बच्चों को प्रतिदिन खेल एवं योग गतिविधि अनिवार्य......पलायन वाले परिवार की पंजी कोटवार बनाये


    झाबुआ। आज कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर  आशीष सक्सेना  ने की। बैठक में सीईओं जिला पंचायत श्रीमती जमना भीडे सहित जिला अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में जनसुनवाई, जनशिकायत, सीएम हेल्प लाइन एवं समयावधि पत्रों की समीक्षा की गई एवं आवश्यक निर्देश दिये गये।
    जिले को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए आवश्यक कार्य योजना बनाने के लिए 23 अगस्त को कलेक्टर कार्यालय में जिला अधिकारी, बैंकर्स एवं वेण्डर की संयुक्त बैठक आयोजित कर शौचालय निर्माण की कार्यवाही त्वरित करवाने के लिए सीईओ जिला पंचायत को निर्देश दिये गये। थांदला के बाद अब झाबुआ ब्लाक को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए प्राथमिकता से कार्यवाही की जाएगी। झाबुआ ब्लाक को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए ग्रामवार जिला अधिकारियों की नियुक्ति सुपरविजन के लिए लगाई गई है। जिला अधिकारियों को ग्रामीण क्षेत्रो में भ्रमण कर ग्रामीणों को शौचालय निर्माण करने के लिए प्रेरित करने के लिए निर्देश दिये गये। जन अभियान परिषद के मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता पाठयक्रम अंतर्गत अध्ययनरत विद्यार्थी भी शौचालय निर्माण एवं लोगो को खुले में शौच नहीं करने के लिए प्रेरित करेगे।

    टीकाकरण अभियान अंतर्गत टीकाकरण से छूटे हुए बच्चों का संपूर्ण टीकाकरण करवाने के लिए जो शासकीय सेवक सहयोग करेगे उन्हें शासन द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा। जो परिवार पलायन पर रहेगा उस परिवार की इन्ट्री एक रजिस्टर में कोटवार द्वारा की जाएगी। कोटवार पलायन वाले परिवार के सदस्यों के नाम पंजी में दर्ज करेगा संबंधित परिवार पंलायन पर किस राज्य अथवा शहर में गया है यह पंजी में दर्ज किया जाएगा। पंजी में संबंधित परिवार का मोबाईल नम्बर भी दर्ज किया जाएगा। ताकि अति आवश्यक सेवाओं का लाभ देने के लिए उनसे संपर्क किया जा सके।
    उन्नत भारत अभियान में जिन ग्रामों को चिन्हित किया गया है वंहा पर वर्मी कम्पोस्ट एवं बाग बाडी शत-प्रतिशत करवाने के निर्देश उप संचालक कृषि को दिये गये। 
    स्कूल एवं छात्रावास के प्रत्येक बच्चे को प्रतिदिन उसकी रूचि अनुसार खेल योग गतिविधि करवाने के निर्देश दिये गये। कलेक्टर ने कहां कि स्कूल एवं छात्रावास के प्रत्येक बच्चे की जानकारी के साथ उपस्थिति पंजी में यह दर्ज होना चाहिए कि बच्चा किस खेल को अच्छा खेलता है। हर बच्चा कोई ना कोई खेल अवश्य खेले ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए सहायक आयुक्त आदिवासी विकास, डीपीसी, डीईओ एवं खेल अधिकारी को निर्देशित किया।

    No comments:

    Post a Comment

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY