• Breaking News

    Monday, September 4, 2017

    छोला ओढ समाजसेवी गुर्गो से करवाता कल्लीपुरा काले खेल..... सटोरिया पंकज गांधीछाप और भैया का दिखाता खौफ


    भियां सबको मेरा नमस्कार.... मैं फिर आ गिया कुछ कही-अनकही के साथ... भियां वो कहते है न कानुन अंधा होता है... उसे कुछ नही दिखाई देता... वैसे ही वर्दीधारी कानुन के रक्षकों को क्रिकेट बुकी और सटोरियों पर नजर ही नही पढ रही है... ऐसे में ये वर्दीधारी इन सटोरियों को संरक्षण दे... राम नाम जपना पराया माल अपना की तर्ज पर काम कर रहे है...। 
    भियां घुमा फिरा के नी सीधे सीधे बात कर रिया हुं.... एक बेरोजगार युवक पंकज... जिसके पिता मामुली सी नौकरी में थे..... वो आज झाबुआ में सटटे के काले कारोबार का मुखिया बन चुका है... जिस पर पुलिस की तनीक भी नजर नही पड रही है.... वो सिर्फ और सिर्फ इसलिए की वर्दिधारियों अच्छे खासे गांधी छाप मिल जाते है... ऐसे में अपनी आंखों पर पटटी बांधे वर्दिधारी.... राम नाम जपना पराया माल अपना... की तर्ज पर काम कर रिये है। 
    झाबुआ में पंकज के 79 जुए और सटटे के अड्डें है और क्रिकेट सटटे की बात करें तो पंकज  का गोपाल काॅलोनी... थाने की लाईन के नीचे.... गोपाल काॅलोनी में कांग्रेस नेता के आस पास... बसंत काॅलोनी.... गायत्री मंदिर के आस पास..... मेघनगर नाका.... एलआईसी काॅलोनी डिस्क वाले के पास...... हाउसिंग बोर्ड काॅलोनी अम्बे माता मंदिर के आसपास.... भोज मार्ग आदि स्थानों पर क्रिकेट सटटा जोरों पर चल रिया है.... । 
    पंकज ने इन स्थानों के लिए अलग अलग गुर्गे पाल रखे है... जिसमें प्रमुख रूप से भावेश... हितु.... अजय... पिन्टु... और अनुज इस काले कारोबार में इसके खास गुर्गे है। कन्या स्कूल के आस पास इनका मुख्य रूप से डेरा लगा रहता है.... भावेश का मुख्य काम है इन क्षेत्रों पर नजर रखना.... ये पूरा दिन अपने आका पंकज के अडडों पर घुमघुम कर नजर रखता है....।
    पंकज पर भाजपा के भीतरघाती भैया  का भी आर्शिवाद है.... इस भीतरघाती के अययाशीगाह कल्लीपुरा में भी जमकर जुआ सटटे का कारोबार चल रहा है.... यहां कई बडे बडे शहरों से आकर सटोरिये सटटा जुआ खेलते नजर आऐंगे.... सुना है इस भाजपा के भीतरघाती ने पंकज के साथ मिल गाँधी छापो से भाजपा को काफी क्षति पहुंचाई है....। 
    भियां सटटे और जुए में पंकज का प्रत्येक दिन लाखों का कारोबार हो रिया है.... वहीं जब क्रिकेट मैंच चलते है तो ये कारोबार करोडों तक पहुंच जाता है... उक्त काला कारोबार खुले रूप नगर में चल रिया है... लेकिन फिर भी कानुन के रखवाले वर्दीधारी पंकज के काले कारोबार पर अंकुश नही लगा पा रहे है....। 
    चौराहों की चर्चा है कि समाजसेवा का छोला ओढे.... वर्दीधारी को 6 अंकों में गांधीछाप मिल रिये है... इसलिए समाजसेवा का छोला ओढे वर्दीधारी इस काले कारोबार को देख के भी अनदेखा कर रिये है और राम नाम जपना पराया माल अपना कर तर्ज पर काम कर रिये है... नही तो पंकज हर रोज शाम को राजगढ नाके पर बैठा नजर आ सकता है.... और इसके बाद राजवाडे पर देर रात तक अपने पाले हुए गुर्गो के साथ मिल सकता है... लेकिन कानुन तो अंधा होता है जो देख के भी अनदेखा कर देता हैं। 
    तो भियां अब मैं चला हुं पर जाते जाते एक और बात बता  दुं... अभी खबर पढते ही हमारी खबरची बिरादरी के कुछ चापलुसों के एनटीना खडे हो जायेगे.... और वो अपने आका पंकज इस खबर के लिए तरह तरह की बातें परोस देंगे... यहां तक की कानुन के रक्षकों को भी कहेंगे... फालतु खबर है.... लेकिन भियां बिरादरी वाले चापलुसों.... एक बात बिता दुं.... अगला नम्बर आपका तो.नही..... मैं तो नंगा हुं और नंगे के नौ ही ग्रह बलवान होते है.... अब जा रिया... जय माता दी।  

    3 comments:

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY