• Trending

    Tuesday, March 20, 2018

    जनसुनवाई में आपूर्ति अधिकारी सीएमओ मेघनगर, पीएचई, उपायुक्त सहकारिता पर भी लगा जर्माना....... सीएम हेंल्पलाइन के प्रकरण में अब देरी होने पर 1 हजार रूपये जुर्माना


    झाबुआ।   जनसुनवाई के प्रकरणो में समयसीमा में निराकरण नहीं करने एवं पोर्टल पर निराकरण की स्थिति दर्ज नहीं करने पर जिला आपूर्ति अधिकारी, सीएमओ मेघनगर, ई.ई. पीएचई एवं उपायुक्त सहकारिता विभाग पर 200-200 जुर्माना लगाया एवं आवेदको को आवागमन व्यय के लिए समक्ष में भुगतान करवाया गया।
    जनसुनवाई के पश्चात कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में समयावधि पत्रो की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने की। बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे सहित जिला अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में विभागवार समयावधि पत्रो जनसुनवाई, लोकसेवा गारंटी, सी.एम.हेल्पलाइन इत्यादि की समीक्षा की गई एवं आवश्यक निर्देश दिये गये।
    सीएम हेल्पलाइन के प्रकरण में संबंधित एल-1 एवं एल-2 अधिकारी यदि प्रकरण का निराकरण करने की स्थिति में नहीं है तो ऐसा प्रतिवेदन 7 दिवस के अंदर डिप्टी कलेक्टर प्रीति संघवी को लिखित में देवे। यदि अधिकारी द्वारा 7 दिवस में इस तरह का प्रतिवेदन नहीं दिया जाएगा तो संबंधित अधिकारी पर एक हजार रूपये का जुर्माना लगाया जाएगा एवं दीनदयाल रसोई के संचालन के लिए यह राशि दी जाएगी। 
    सैनिक कल्याण के लिए जिले को मिले सम्मान के लिए कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने सभी अधिकारियों को बधाई दी। 
    बैठक में जिला अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि ग्राम पंचायतो में अपने विभाग की योजनाओ के क्रियान्वयन को सुनिश्चित करे साथ ही ग्राम पंचायत में स्वच्छ भारत अभियान अंतर्गत शौचालय निर्माण के बाद लोगो को शौच के लिए शौचालय का उपयोग करने के लिए प्रेरित करे। आपूर्ति विभाग छूटे हुए पात्र हितग्राहियों को पात्रता पर्ची एवं उज्जवला योजना के आवेदन का वितरण कर लाभान्वित करवाये।

    Best Offer

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY