• Trending

    Tuesday, April 10, 2018

    जनसुनवाई - नसबंदी के बाद भी महिला को हुआ चौथा बच्चा............ मेघनगर में शासकीय भूमि पर विपक्षी ने तनवाई गुमटियां और गुमटी व्यवसाईयों से ले रहे मनमाना किराया


    झाबुआ। जिले में शासकीय भूमियों पर अतिक्रमण जोर-षोर से जारी है। इसी क्रम में मेघनगर में शासकीय पर श्रीमती मंजुबाला पिता यषवंत बाफना द्वारा दो गुमटियां लगवाकर अतिक्रमण करने एवं गुमटी व्यवसाईयों से मनमाना किराया लेने की षिकायत मंगलवार को दोपहर कलेक्टोरेट में आयोजित जनसुनवाई मेेघनगर के ही सामाजिक कार्यकर्ता अरूण ओहारी द्वारा की गई है। इसके साथ एक अन्य दिए आवेदन में ग्राम आमफलिया की महिला सका पति करमसिंह ने बताया कि जिला चिकित्सालय में नसबंदी करवाने के बाद उसकी एक बार ओर प्रसूति हो गई। दोनो ही मामलों में कलेक्टर श्री सक्सेना ने आवेदन लेकर आवेदकों को समयावधि में निराकरण की टिप्स प्रदान की।

    मंगलवार को दोपहर 1 बजे कलेक्टोरेट में आयोजित जनसुनवाई कार्यक्रम में षिकायती आवेदन कलेक्टर आषीष सक्सेना द्वारा प्राप्त किए गए। इस अवसर पर विषेष रूप से जिला पंचायत सीईओ श्रीमती जमुना भिड़े, डिप्टी कलेक्टर प्रीती संघवी, जनसनवाई अधिकारी आरएस मंडलोई उपस्थित थे। जसनुवाई में एक आवेदन मेघनगर के सामाजिक कार्यकर्ता अरूण ओहारी द्वारा दिया गया। जिसमें उसने बतया कि मेघनगर के बस स्टेंड पर शासकीय भूमि पर विपक्षी मंजुबाला पति यषवंत बाफना द्वारा पहले दो गुमटी लागकर अतिक्रमण किया गया, तो उस सबंध में प्रार्थी द्वारा षिकायत के बाद कलेक्टर द्वारा कार्रवाई की गई थी तथा गत 29 जनवरी 2017 को राजस्व निरीक्षक ने मौके पर पहुंचकर जांच भी की थी, किन्तु उसके बावजूद विपक्षी द्वारा उक्त गुमटियां को ना हटाते हुए अन्य 5-6 ओर गुमटियां लगा दी गई है, जिससे बस स्टेंड पर यातायात बाधित हो रहा है तथा यात्रियों एवं वाहन चलाने वाले दो पहिया वाहन चालकों के साथ महिलाओं को भी काफी आवागमन में काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। उक्त अतिक्रमण से शासन का सार्वजनिक हित एवं जनहित प्रभावित हो रहा है।
    ले रहा मनमाना किराया
    मीडिया से मौखिक चर्चा में अरूण ओहारी ने आरोप लगाते हुए कहा कि विपक्षी मंजुबाला पति यषवंत बाफना द्वारा ये 5-7 गुमटियां किराये पर दूसरे व्यापारियों को दी गई है और उनसे गुमटी का मनमाना किराया भी विपक्षी वसूल रहा है। वह अपनी रसूखदारी और राजनैतिक संरक्षण का लाभ प्राप्त कर रहे है, जबकि शासकीय भूमि पर अतिक्रमण किया जाना गैर कानूनी है, बावजूद इसके कोई ठोस कार्रवाई इस मामले में जिला प्रषासन की ओर से नहीं की गई है।

    तीन बच्चों के बाद नसबंदी करवाई, फिर बनी मां
    इसी प्रकार जनसुनवाई में एक अन्य आवेदन ग्राम आमलीफलिया तह. एवं जिला झाबुआ के करमसिंह पिता सोमला डामोर द्वारा दिया गया। जिसमें उसने बताया कि उसकी पत्नी सका डामोर की विगत 15 जुलाई 2017 को जिला चिकित्सालय झाबुआ में हुई थी। इसके पूर्व उसके तीन बच्चें थे, नसबंदी के बाद पुनः वह मां बन गई। चैथी संतान के रूप में उसे लड़की हुई। आवेदन में प्रार्थी करमसिंह ने नसबंदी करने वाले लापरवाह चिकित्सक एवं स्टाॅफ पर कार्रवाई की मांग कलेक्टर को आवेदन देकर की एवं चारो पुत्र-पुत्रियों के समुचित पालन-पोषण के लिए आर्थिक मद्द करने की भी मांग की।

    Best Offer

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY