• Breaking News

    Thursday, April 19, 2018

    मटन की दुकानों से परेशान..... वार्ड 7 के रहवासियों ने प्रभारी मंत्री को की थी शिकायत...... बेहरूपियों के प्रभाव से प्रशासन नही कर रहा कार्रवाई..... पिछली परिषद के स्लाटर हाउस मामले की हो जांच


    झाबुआ। शहर के मध्य स्थित वार्ड क्रमांक 7 में मटन मुर्गो की दुकानों से रहवासियों को काफी परेशानी का सामना करना पड रहा है। चारों ओर बदबु और दुकानदारों द्वारा गंदगी वहीं फेकने की वजह से यह गंदगी सडांध मारने लगती है। जिसकी वजह से रहवासियों को तरह तरह की बीमारियां भी हो रही है। इस बात की शिकायत रहवासियों द्वारा जिला प्रशासन को कई बार की जा चुकी है। लेकिन प्रशासन इस ओर कोई सुध नही ले रहा है। इस तारतम्यता में वार्डवासियों द्वारा प्रभारी मंत्री विशास सांरग को अपनी समस्या से अवगत करवाते हुए आवेदन सौंप समस्या के निराकरण की मांग की। रहवासियों की समस्याओं को देख प्रभारी मंत्री द्वारा कलेक्टर आशीष सक्सेना को जल्द से जल्द रहवासियों को इस समस्या से निजाद दिलवाने और मटन मुर्गे की दुकानों को नगर पालिका एवं वार्ड से हटवाने के निर्देश देने के साथ साथ इन दुकानों को अन्यत्र लगवाने के निर्देश दिए। 
    क्या कहते है रहवासी 
    ज्ञापन में रहवासियों ने बता कि हमारे वार्ड क्रमांक 7 में एक ओर लक्ष्मीनाथ माहेश्वरी मंदिर, गणेश मंदिर और एक मस्जिद और आंगवाडी केन्द्र के साथ साथ प्रायमरी स्कूल भी है। प्रमुख बात यह है कि इस बार्ड में नगर पालिका कार्यालय भी है। 
    वार्ड में सभी जाति, समाज व धर्म के लोग अपनी अपनी आस्था और भाईचारे से रहते आ रहे है। इस वार्ड में एक गंभीर समस्या है जो वर्षो से बनी हुई है वह है मटन मुर्गे की दुकानें जो घर के बाहर लगी होने के कारण यहां गंदगी और बदबु तथा सडाधं की भरमार है। जिसके कारण यहां रहना दुभर हो गया है। इन मटन की दुकानों को हटाने के लिए पिछले 4-5 वर्षो से  आवेदन व 181 पर भी शिकायत भी की जा चुकी है। परंतु दुकानें वहीं की वहीं है। 
    नगर पालिका झाबुआ के साथ साथ जिला प्रशासन भी इस ओर ध्यान नही दे रहा है। नगर पालिका के समीप ही मटन मुर्गे की दुकानें लगती है। जहां दुकानदार गंदगी वहीं फेंक देते है। पास ही में आंगनवाडी और कलेक्टोरेट और स्कूल जाने का एक मात्र सुगम व सरल रास्ता रही है। ऐसे में यहां से निकलने वाले राहगिरों को काफी परेशानी का सामना करना पडता है। अतः महोदय से निवेदन है कि उचित कार्रवाई कर जल्द से जल्द समस्या का निराकण किया जाए। ताकि हम हो हमारा परिवार स्वस्थ्य एवं सुखी जीवन जी सके। यहां पर फैली गंदगी की वजह से रहवासी आए दिन बीमार होते रहते है। 
    निर्देश के बाद भी क्यों नही हो रही कार्रवाई 
    प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग ने रहवासियों की समस्याओं को सुन जल्द से जल्द समस्या का निराकरण करने के कलेक्टर को निर्देश दिए। लेकिन शायद जिला प्रशासन  और नगर पालिका रहवासियों की इस समस्या से निजात दिलवाना ही नही चाहती है। नगर में कई ऐसी शासकीय भूमि है जिसकी जिला प्रशासन को जानकारी भी है जहां स्लाटर हाउस बनाया जा सके। मगर प्रभारी मंत्री के निर्देश के बावजुद भी जिला प्रशासन और नगर पालिका इस ओर सुध नही ले रहा है या फिर किसी के दबाव प्रभाव की वजह से उक्त स्थान से मटन की दुकाने हटाने नही देना चाहता है। 
    बेहरूपियों की सुन रहा है प्रशासन 
    सुत्रों की माने तो कुछ बेहरूपिये जो समाज सेवा का छोला ओढ पहले से ही स्लाटर हाउस के नाम पर लाखों रूपए खा गए हैं और अब अपने दबाव व प्रभाव के दम पर इन दुकानों को यहीं लगे रहने देना चाहते है ताकि इनके काले कारनामें उजागर न हो सके। सुत्रों के अनुसार ये बेहरूपिये ने दुकादारों को यह तक कह दिया है कि यहां की जमीन पर कब्जा कर चार बल्लियां तान दो.... पटटा मैं दिलवा दंुंगा....। सुत्रों की माने तो इस बेहरूपिये ने पिछली परिषद में स्लाटर हाउस को लेकर जो घालमेल किया था उसी की जांच की जाए तो इस बेहरूपिये का असली चेहरा सामने आ जायेगा। 


    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY