• Trending

    Tuesday, August 21, 2018

    संघ विरोधी गतिवीधियों से जुडे साहब के सामने भाजपा नगण्य...... साहब का प्यादा इंदौरी पारस करता सारी दलाली.... नही मिला कमीशन तो होती है जांच कर दिया जाता है निलंबित



                  भियां... सभी को राम राम... दुआ सलाम...  जय येसु.... सत् श्री अकाल..... और तमाम धर्मालंबियों को उनके धर्मानुसार कही-अनकही का नमस्कार... भियां इन दिनों सरकार के कुछ ऐसे मुलाजिंम आ गिये है.... जो संघ विरोधी गतिविधियों से जुडे नजर आ रियें है... जो समाज को जोडने का नी... तोडने का काम कर रिये है... भियां जिलें में आदिवासियों के उत्थान दो पदों पर आसिन्न एक अधिकारी जो भाजपा के नगण्य और संघ के विरोध में सक्रिय भुमिका निभाते हुए... अपने संगठन को सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं पर पलीता फेर मजबुत बना रिये है... और समाज विरोधी नीतियों का बीज बो रिये है। 

               भियां सुत्रों की माने तो साहब इन दिनों रानापुर से प्रत्येक छात्र के नाम पर 180 रूपए वसुल कर रिये है... ये वो राशि है जो छात्रों के विकास के लिए सरकार ने आवंटित की है.... इसमें से साहब को कमीशन  नही दिया तो..... कर्मचारी को निलंबित कर दिया जाता है... या फिर जांच के नाम पर छात्रों की गादी... चददर फाड दिए जाते है... हाल ही की बात करें तो साहब ने अपने अधिनस्थ कर्मचारियों का कमीशन के चक्कर में वेतन रोक लिया गिया है...। ये इसलिए हो रिया है क्योंकि बाहर की फर्मो को काम दे  जिले में घटिया किस्म का माल जिले में सप्लाई किया जा रिया है... जिससे साहब को मोटी रकम कमीशन के रूप में मिल री है... और इस कमीशन मेसे कुछ हिस्सा संघ और भाजपा के विरोध में उपयोग किया जाता है।  

            भियां ये पुरा खेल साहब का प्यादा इंदौरी पारस रचता है.... जो साहब के लिए शराब.... शबाब... और कबाब... के साथ दुसरी भी व्यवस्था करता है..... संघ और भाजपा के विरोध में पुरी रचना रच.... संघ विरोधी संगठन को कमीशन का हिस्सा देता है.... इसकी पुरी नजर क्षेत्र पर  रहती है... पहले डराता है... फिर कमीशन की बात करता है... अगर नही हुआ ... तो भेज देता है साहब को जांच के लिए... जिले में बाहर के सप्लायरों को ये ही सामान सप्लाई के लिए लेकर आता है... घास फुस की गादी के सप्लायर भी जिले मे ंइसी के माध्यम से आए है...अगर में साहब के साथ इस इंदौरी पारस के संबंधों के बारे में झुठ बोल रिया हुं तो इंदौरी पारस की सोशल मीडिया पर साहब के साथ अपलोड फोटो देख लियो... या फिर कार्यालय के सीसीटीव्ही फुटेज.... ।

              तो भियां अब में चलता हुं... लेकिन जाते जाते एक बात और बिता दुं.... ये साहब कभी भी संघ और भाजपा दोनों के लिए घातक हो सकते है... अगर साहब के प्यादे इंदौरी पारस की गर्दन दबोच ली.... सारा संघ और भाजपा विरोध खत्म हो जायेगा..... अगर नी मिल रिया है तो मैं बिता देता हुं... इंदौर के कार्यालय में ये इंदौरी पारस मिल जायेगा... अब जा रिया जय रामजी की। 


    Best Offer

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY