• Trending

    Thursday, August 30, 2018

    भैया के चक्कर में भाभी को दिखाया सीएम ने अंगुठा...... रथ में चढाने माफिया करता रहा मंत्री को ईशारा ..... यह तो शांतिलाल की सादगी व सीधापन है जो माफिया को कुछ नी के रिया


              सबको मेरा नमस्कार.... लो भियां मैं फिर आ गिया कुछ कही-अनकही के साथ.... भियां दो तीन दिन पेले.... प्रदेश के मुखिया शिवराज मामा की जनआर्शीवाद यात्रा जिले में भी आई .... भियां यात्रा को सफल बनने के लिए तंत्री से लेकर मंत्री तक लग गिये थे.... भियां यात्रा भी सफल हुई... मामा को जन-जन ने आधी रात तक आर्शीवाद दिया.... लेकिन भियां मामा का आर्शीवाद अगले विधान सभा चूनाव के लिए किसको मिलेगा ये खबर न तो जनता को है और न ही कही-अनकही में कहा जा सके.... कब कौन बाजी मारे... निश्चित ही भियां जो जीता वो ही सिकन्दर बनने वाला है... अगले चूनाव में...... पर भियां एक बात जरूर है मुख्यमंत्री जनआर्शीवाद यात्रा मुख्यमंत्री की जनआर्शीवाद यात्रा जन-जन की न होकर पुंजीपतियों, माफियाओं, के साथ साथ प्रशासन के शीकंजे में कसी रही... विधायकी की दौड लगाने वाले नेताओं में भी जमकर गुटबाजी देखने को मिल री थी...

             भियां अभी तक जिले में मुख्यमंत्री के आने से पेले जो गुटबाजी अंदर खाने थी... माफियाओं पुंजीपतियों के चलते खुल कर बाहर आ गी... भियां एक उद्योगपति खनन माफिया ने तो अपने पूर्व प्रदेशाध्यक्ष आका के माध्यम से केप्चर कर ली...  होर्डिग, बेनर, पोस्टर से लेकर रथ तक कब्जा जमाए रखने का भरसक प्रयास किया... पर भियां मुख्यमंत्री ने परिस्थियों को भाप उद्योगपति खनन माफिया को बगल में बैठा कर अंगुठा चुसा दिया...।
    भियां खनन माफिया भैया इन दिनों झाबुआ विधान सभा हेतु भाभी के लिए प्रयासरत है... जो कि वर्तमान में स्थानीय निकाय में काबिज है... भियां यात्रा के दौरान जिले में प्रवेश करते ही ग्राम बन से ही खनन माफिया भाभीजी को रथ पर चढाने का प्रभारी मंत्री को लगातार इशारा करते रिया... रानापुर... पारा.... में भी इशारा किया....  पर भियां मुख्यमंत्री रास्ते भर बेनर पोस्टर देख भौंचक रह गए थे... सुत्रों की माने तो उन्होने एक विधायक को यह तक के दिया... यह तो शांतिलाल की सादगी व सीधापन है... जो कि उसका एक भी फोटो पुंजीपति खनन माफिया के होर्डिग्स में नही है...। 

              भियां यात्रा पर कब्जा करने में लगे खनन माफिया की करतुत सामने आने के बाद मुख्यमंत्री ने प्रभारी मंत्री को किए ईशारों को अनदेशा कर... अंत तक विधायकी की दौड में शामिल भाभी को रथ पर चडने नही दिया... उधर खनन माफिया का आका पूर्व प्रदेश अध्यक्ष पुरी यात्रा में फाचरे डाल गिया... बन में भानु को बैठाया तो... सुनिता को अंगुठा दिखाया... थांदला में चरम पर पहुंच गंुटिया राजनीति के बीच पूर्व प्रदेशाध्यक्ष ने मंच उतरते ही सार्वजनिक रूप् से कमर कस काम करने बात कह गुटिया राजनीति की आग में घी डालने का काम कर दिया...। 

              भियां अब जा रिया... लेकिन आने वाले अगले अंक की एक बात और बिता दुं... अभी तक तो आग में घी डला है... अब मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए हवन में एक बार फिर आहुतियां इस जिले में पूर्व विधानसभा चुनाव की तरह डालने की तैयारियां अदंर खाने में जोरों पर चल री है... अब जा रिया जय राम जी की। 

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- editor@VoiceofJhabua.com 

    Best Offer

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY