• Trending

    Friday, September 7, 2018

    एम्वे इंडिया को प्रतिष्ठित नेशनल सीएसआर समिट एंड अवार्ड्स 2018 में मिला सीएसआर अवार्ड

    दृष्टिबाधित लोगों के कल्याण हेतु अपने प्रयासों के लिये स्पेशियली-एबल्ड श्रेणी में ‘बेस्ट काॅर्पोरेट’ के रूप में सम्मानित किया गया
    भारत सरकार के माननीय वाणिज्य, उद्योग एवं नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सुरेश प्रभु ने एम्वे को यह पुरस्कार प्रदान किया


    इंदौर।  देश की अग्रणी एफएमसीजी डायरेक्ट सेलिंग कंपनी एम्वे इंडिया को सीएसआर टाइम्स द्वारा आयोजित प्रतिष्ठित नेशनल सीएसआर समिट एंड अवार्ड्स 2018 में ‘स्पेशियली-एबल्ड’ श्रेणी में ‘बेस्ट काॅर्पोरेट’ का अवार्ड मिला है। भारत सरकार के वाणिज्य, उद्योग एवं नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सुरेश प्रभु ने एम्वे इंडिया में काॅर्पोरेट कम्यूनिकेशंस एवं काॅर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व की राष्ट्रीय प्रमुख सुश्री सिमरत बिश्नोई को यह पुरस्कार प्रदान किया। इस अवसर पर शीर्ष नेतृत्वकर्ता और निर्णायक मंडल के सदस्य, जैसे भारत सरकार में राष्ट्रीय बाल अधिकार सुरक्षा आयोग की चेयरपर्सन स्तुति नारायण काकेर, पद्मश्री डाॅ. के. के. अग्रवाल, वल्र्ड माइनिंग काॅन्ग्रेस के वाइस चेयरमैन डाॅ. एम.पी. नारायणन और सीएसआर टाइम्स के संपादक श्री हरीश चंद्रा उपस्थित थे। 

    संस्थानों के उत्कृष्ट और खोजपरक सीएसआर अभ्यासों को सम्मानित करने पर लक्षित, इस पुरस्कार ने दृष्टिबाधित लोगों के कल्याण की दिशा में एम्वे के निरंतर योगदान और कार्य को सम्मानित किया।

    पुरस्कार प्राप्त करने पर एम्वे इंडिया में काॅर्पोरेट कम्यूनिकेशंस एवं काॅर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व की राष्ट्रीय प्रमुख सुश्री सिमरत बिश्नोई ने कहा, ‘‘हम पिछले दो दशकों से दृष्टिबाधित लोगों के लिये कार्यरत हैं, जिसके लिये यह पुरस्कार प्राप्त कर वाकई में सम्मानित महसूस कर रहे हैं। दिव्यांगों के लिये अवसरों के विस्तार पर लक्षित भारत सरकार की ‘एक्सेसिबल इंडिया’ पहल के अनुसार एम्वे दृष्टिबाधित लोगों की शिक्षा और शैक्षणिक सामग्री के डिजिटाइजेशन द्वारा उन्हें सशक्त कर रहा है। यह पुरस्कार ‘बेहतर जीवन जीने में लोगों की मदद’ के लिये और परियोजना के अंतर्गत करीब 2.5 लाख दृष्टिबाधित लोगों के जीवन को प्रभावित करने के लिये एम्वे की प्रतिबद्धता का प्रमाण है। काॅर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व एम्वे के मूल्यों का प्रमुख घटक है। हम इस देश में कंपनी की शुरूआत से ही सीएसआर गतिविधियों में संलग्न हैं। यह पुरस्कार एम्वे के डायरेक्ट सेलर्स, कर्मचारियों, संबद्धों और ग्राहकों के लिये गर्व का विषय है, जो व्यवसाय से परे हैं।’’  

    एम्वे इस विश्वास के साथ दृष्टिबाधित लोगों के लिये अथक परिश्रम कर रहा है कि शिक्षा और ज्ञान से शारीरिक अक्षमताओं पर विजय प्राप्त की जा सकती है। एम्वे इंडिया ने वर्ष 1999 में दृष्टिबाधित लोगों के लिये नेशनल प्रोजेक्ट के साथ सीएसआर पहलों की शुरूआत की थी, ताकि उन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिल सके और उनके लिये रोजगार के अवसर उत्पन्न हों। इस परियोजना के अंतर्गत एम्वे ने ब्रेल पाठ्यपुस्तकें, आॅडियो बुक्स और लाइब्रेरीज, कंप्यूटर टेªनिंग सेंटर, बीपीओ और कई अन्य पहलें शुरू कीं, जिससे दृष्टिबाधित लोगों को शिक्षा के अवसरों तक पहुंच बनाने में मदद मिली।  इस प्रोजेक्ट ने अभी तक 2.50 लाख से ज्यादा दृष्टिबाधित लोगों का जीवन सकारात्मक रूप से प्रभावित किया है।



    Best Offer

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- Editor@VoiceofJhabua.com 

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY