• Trending

    Wednesday, January 30, 2019

    राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर कुष्ठ रोग जागरूकता अभियान पखवाड़े की हुई शुरुवात....



    कल्याणपुरा से ओमप्रकाश राठौड की रिपोर्ट.......
    राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर कुष्ठ रोगियों के प्रति सम्मानजनक व्यवहार के लिए ग्राम स्तर पर संकल्प लिया गया। 30 जनवरी से 13 फरवरी तक स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान पखवाडे का आयोजन भी किया जाएगा।  कुष्ठ मुक्त जिला बनाने के लिए तथा कुष्ठ रोग से प्रभावित व्यक्ति के प्रति सम्मान जनक व्यवहार करने तथा समाज में उसे समानता का स्थान देने के लिए ग्राम स्तर पर संकल्प लिया जाएगा। इस अवसर में कल्यापुरा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर सर्वप्रथम महात्मागांधी के चित्र पर डाॅ बीएस डावर द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के कुष्ठ मुक्त भारत बनाने के सपने को साकार करने का संकल्प दिलाया जाएगा। डाॅ डावर ने बताया कि कुष्ठ रोग गंभीर बीमारी है, यह लेप्रा बेसिली नामक जीवाणु से पैदा होती है। यह छुआछुत से फैलने वाला अथवा आनुवांशिक रोग नही है। इसकी जांच उपचार राजकीय अस्पतालों एवं स्वास्थ्य केन्द्रों पर मुफत होती है। कुष्ठ रोग की शुरूआत में ही पहचान होने जाने पर उपचार संभव है। उन्होने बताया कि चमडी पर त्वचा के रग से फीका, एक या एक से अधिक दाग या धब्बे जिसमें सुन्नपन, सूखापन, पसीना आता हो, खुजली या जलन, चुभनहोती हो तो कुष्ठ रोग हो सकता है।  उन्होने आग्रह किया कि किसी व्यक्ति को इस तरह के दाग धब्बे हो, तो आशा, आंगनवाडी, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, डाॅक्टर सं संपर्क कर जांच करवाएं, यदि कोई व्यक्ति कुष्ठ रोग से पीडित है तो उसके साथ किसी भी तरह का भेदभाव न करे, उसकी मददत करें। इस अवसर पर डाॅ हार्दिक  नायक, सीके पांण्डे , डाॅ महेन्द्र झनीया, जेपी राठौर आदि भी मौजुद थे। 

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- editor@VoiceofJhabua.com 

    Best Offer

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY