• Trending

    Thursday, January 31, 2019

    अगले चार माह में खुलेंगी 1000 गौ शालाएँ, ..... मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने दिए प्रोजेक्ट गौ शाला पूरा करने के निर्देश


            झाबुआ। राज्य सरकार ने ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए अगले चार माह के भीतर 1000 गौ-शालाएँ खोलने का निर्णय लिया है। इसमें एक लाख निराश्रित गौ-वंश की देख-रेख  ह गी और  40 लाख मानव दिवसों का निर्माण होगा। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में अब तक कोई भी शासकीय गौ-शाला नहीं ख¨ली गयी थी। मुख्यमंत्री  कमल नाथ ने आज मंत्रालय में वचन पत्र का एक ओर वचन पूरा करते हुए प्रोजेक्ट गौ -शाला क¨ तत्काल पूरा करने के निर्देश दिए। ग्रामीण विकास विभाग प्रोजेक्ट  गौ -शाला का नोडल विभाग होगा। ग्राम पंचायत, स्व-सहायता समूह, राज्य गो -संवर्धन ब¨र्ड से संबद्ध संस्थाएँ एवं जिला समिति द्वारा चयनित संस्थाएँ प्रोजेक्ट गौ -शाला का क्रियान्वयन करेंगी। 
    मुख्यमंत्री ने निजी संस्थाओ से भी इस परियोजना में भाग लेने का आग्रह किया। उन्होंने  स्वामित्व संचालन और  प्रबंधन के आधार गौ-शालाओ  के संचालन की सम्भावनाएँ तलाशने के भी निर्देश दिए।  मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रोजेक्ट  गौ -शाला सेशहरों  और  गावों  में निराश्रित पशुओं  द्वारा पहुँचाये जा रहे नुकसान से निजात मिलेगी। निराश्रित पशुओं  को  घर आश्रय मिलेगा। साथ ही ग्रामीण रोज़गार के भी अवसर निर्मित होंगे। चार माह बाद इन गौ-शालाओ  का विस्तार होगा। प्रदेश में 614 गौ-शालाएँ हैं जो  निजी क्षेत्र में संचालित है। अब तक एक भी शासकीय गौ -शाला संचालित नहीं है। गौ -शाला प्रोजेक्ट के लिए कलेक्टर की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समिति होगी। विकासखंड स्तर की समिति में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अध्यक्ष होगे। गौ-शाला में शेड, ट्यूबवेल, चारागाह विकास, बाय¨गैस प्लांट, नाडेप, आदि व्यवस्थाएँ होगी। फंड की व्यवस्था पंचायत, मनरेगा, एमपी-एमएलए फंड तथा अन्य कार्यक्रमो  के समन्वय से होगी। जिला समिति गौ-शालाओ  के लिए स्थल चुनेंगी। 

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- editor@VoiceofJhabua.com 

    Best Offer

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY