• Trending

    Monday, February 4, 2019

    गलत तथ्य प्रस्तुत करने वाले बैंकर्स/शासकीय सेवक के विरूद्ध होगी दंडात्मक कार्यवाही



            झाबुआ। जय किसान फसल ऋण माफी योजना मे आवेदन पत्र भरने का कार्य सतत जारी है। इस संबंध मे कलेक्टर  प्रबल सिपाहा ने आवेदको को समस्या के निराकरण के बारे मे जानकारी देते हुए कहा है कि ग्राम पंचायतो एवं बैंक शाखाओ मे बैंक रिकार्ड अनुसार बकाया ऋण धारको की सूचियां दिनांक 15 जनवरी से कल  5 फरवरी तक प्रदर्शित की जा रही है। आधारसीडेड ऋण खातो की हरी सूची एवं गैर-आधार सीडेड ऋण खातो की सफेद सूचियां है।  5 फरवरी तक हरी सूची के ऋण खाताधारी किसान को हरे आवेदन पत्र भरने है। सफेद सूची के ऋण खाताधारी किसान को सफेद आवेदन पत्र भरने है तथा तथा सफेद सूची वाले किसानो को बैंक शाखा मे जाकर बैंक खाते की आधार सीडिंग करानी है। जिन किसानो के सूचियो मे नाम नही है अथवा सूचियों मे दर्ज जानकारी त्रुटिपूर्ण है। उन्हे 5 फरवरी तक गुलाबी आवेदन पत्र भरने है। आवेदक को आवेदन पत्र भरते समय आयकरदाता/शासकीय सेवा मे कार्यरत/वर्तमान अथवा भूतपूर्व जनप्रतिनिधि आदि के निहर्रता/अपात्रता नही होने का स्वप्रमाणीकरण किया जाना है। आगामी 5 फरवरी तक प्राप्त समस्त आवेदन पत्रो को ऋण माफी के पोर्टल पर अपलोड किया जायेगा। बैंक शाखा मे आॅनलाईन त्रुटि सुधार करने उपरंात पोर्टल पर प्रावधिक ऋण माफी की सूची तैयार की जायेगी। 18 से 20 फरवरी को प्रोविजनल ऋण माफी की सूची को प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता की जिला स्तरीय समितियो द्वारा स्वीकृति प्रदान की जायेगी। 22 फरवरी से जिला स्तरीय समिति द्वारा स्वीकृत प्रकरणो मे ऋण माफी की राशि ऋणखातो मे जमा कराया जाना प्रारंभ किया जायेगा। 
            किसानो के ऋण माफी संबंधी आवेदन पत्र भरने का कार्य सभी ग्राम पंचायतो, सहकारी संस्थाओ मे निरंतर जारी है। किसान वहां जाकर आगामी 5 फरवरी तक अपने आवेदन पत्र भर कर सकते है। ऋण माफी योजना मे गलत तथ्य प्रस्तुत करने वाले बैंकर्स/शासकीय सेवक के विरूद्ध आपराधिक प्रकरण दर्ज कर दंडात्मक कार्यवाही की जायेगी।  

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- editor@VoiceofJhabua.com 

    Best Offer

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY