• Trending

    Tuesday, February 5, 2019

    बंगालियों के गिरफ्त में झाबुआ जिला ...... न्यालालय से जमानत के बाद भी कई फर्जी बंगाली चला रहे हैं फर्जी दवाखाने ......... साहब को किसका डर या हैं पैसों की माया




    कल्याणपुरा से  ओमप्रकाश राठौर की रिपोर्ट...... 

    स्वास्थ्य सुविधाओ के नाम पर  शासन एक तरफ पूरा जोर दे रहा है वही स्वास्थ्य विभाग के नुमाइंदे अपनी कुम्भकर्णी निद्रा में ही सोये हुवे हे अनेको योजनाओ के माध्यम से मरीजो को बेहतर लाभ  देने लिए प्रयास शासन करता है लेकिन जिले के गाँव गाँव कस्बे कस्बे और फलिए फलिए में बंगाली दवाखाने शासन की स्वास्थ्य सुविधाएं प्रभावित कर रहे हे क्योकि बंगाल के जादू के झांसे में भोलेभाले आदिवासियों आ रहे हे इलाज के नाम पर इनका शोषण हो रहा है ।  इनके खिलाफ प्रशासन ने कार्यवाही कर दवाखने नहीं खोलने की हिदायत देकर प्रकरण भी दर्ज किये गए थे लेकिन न्यायलय से जमानत पर आकर पुनः प्रशासन को ठेंगा दिखाकर यह क्लिनिक संचालित कर रहे है, लेकिन जिम्मेदार विभाग दोबारा कार्यवाही से परहेज करता नजर आ रहा है, विभाग जानकर  भी अंजान बन बैठा है जिससे इन बंगालीयो के हौसले बुलंद ही नही काफी मजबूत भी हो रहे है। ग्रामीण इलाकों में दवाई की दुकान वाले और जनप्रतिनिधी इन्हें कार्यवाही से बचाते हे और इनसे अपने स्वार्थ पुरे करते हे स्थानीय स्तर पर ग़लत का साथ देने वाले ये जनप्रतिनिधी और दवा दूकान वाले स्थानीय मेडिकल ऑफीसर और नोडल अधीकारी पर कार्यवाही नहीं होने का दबाव बनाते है जिससे स्थानीय स्तर से कार्यवाही होना असंभव होता है। 
    *शिक्षा की कमी मरीजो को इन तक ले जाती है --*
    जिले में शिक्षा की कमी के चलते गरीब ग्रामीण लोग इन अवैध चिकित्सको के झांसे में आकर इलाज करवा रहे है,जिससे उनकी जान को हमेशा खतरा बना रहता है,वो इन्ही जानते कि कौन डॉक्टर हे बस कुर्सी टैबल लगाके गले में स्टेसनेश स्कोप डाले बैठा व्यक्ती इनके लिए डॉक्टर बन जाता है और जिम्मेदार प्रशासन के अधिकारी सब जानते हुवे भी आँखे बंद कर बैठे है, उन्हें ग्रामीणों के स्वास्थ्य की कोई परवाह नही है, अगर होती तो अब तक प्रशासन के सरक्षण में चल रहे दवाखाने सील हो जाते ।

    *इन ग्राम में इन पर हुई थी पूर्व में कार्यवाही लेकीन जमानत के बाद फीर चल रहे प्रशासन के संरक्षण में दवाखाने*

    *कल्याणपुरा में -* तपन मंडल, और भी दर्जनों है

    *रायपुरिया में-*
    विचित्र विश्वास,गौत्तम विश्वाश,मनोतोष गोरानी,वापी मंडल,
    *खवासा में-*
    शंकर राय , शंकर मंडल , अभिजीत राय  प्रजापत 
    *भामाल में-*
    गौतम राय,

    @Editor

    अपने शहर की खबरें , फोटो , वीडियो आदि भेजने के लिए हमें सीधे ईमेल करे :- editor@VoiceofJhabua.com 

    Best Offer

    RECENT NEWS

    PHOTO GALLERY